दो पत्थर की ऐसी प्रेरणादायक कहानी जो आपके जीवन में बदलाब लाने में मजबूर कर दे

दोस्तों आज हम आपके साथ एक बहुत ही बेहतरीन और मज़ेदार Prernadayak Hindi Kahani शेयर करने जा रहे है. जिसको पढ़ कर आपको इस story से एक बहुत ही प्यारा सा message मिलेगा. जिससे आपको किसी भी चीज में सफल होने का प्रेरणा मिलेगी।

दोस्तों आज का प्रेरणादायक कहानी शुरू करने से पहले आप सबसे कुछ कहना चाहूंगा। आप हमारे website को अपने bookmark में save जरूर कर ले और प्रतिदिन हमारे website में आते रहे. आपको यहां से बहुत अच्छे अच्छे प्रेरणादायक हिन्दी कहानियाँ और success stories पढ़ने को मिलेंगे. और दोस्तों अगर आपको आज का story अच्छा लगे तो इसको शेयर जरूर करे नीचे दिए गए share बटन से। तो चलिए आज के story के और चलते है।

Prernadayak-kahani-hindi

Prernadayak Kahani – Life Changing Motivational Story in Hindi

एक समय की बात है एक कलाकार (शिल्पी) अपने औज़ारों को थैले में भर कर जंगल की और चल देता है. थोड़ी दूर चलते चलते उसको रस्ते में एक बहुत सुन्दर पत्थर दीखता है और वह सोचता है क्यों ना इस पत्थर से एक मूर्ति बनाऊ फिर वो अपने थैले से औजार निकलता है और औजारों से उस पत्थर को तराशना शुरू करता है तभी पत्थर में से एक आवाज़ आती है “आरे भाई रहने दो ना दर्द होता है” यह सुनने के बाद कलाकार अपने औज़ारों को अपने थैली में भर कर आगे चल देता है।

चलते चलते उस कलाकार को रस्ते में और एक बहुत सुंदर पत्थर दीखता है. इसबार वह इस पत्थर से मूर्ति बनाने का सोचता है और अपने औजारों को बहार निकालकर एक भगवान की मूर्ति तराशना शुरू कर देता है. इस बार इतने बढ़िया से मूर्ति को तराशता है देखने से लगता है जैसे मानो पत्थर की मूर्ति अभी बोल पड़ेगी फिर वह कलाकार अपनी कला कीर्ति को बही छोड़ कर आगे चल देता है।

चलते चलते वह कलाकार एक गाँव में पहुचता है और देखता है वहाँ एक बहुत सुंदर मंदिर का निर्माण हुआ होता है. लेकिन वहाँ कुछ लोग आपस में बात चित कर रहे होते है। उसे पता चलता है मंदिर का निर्माण हो गया है लेकिन अभी मूर्ति का निर्माण नही हुआ है मूर्ति कहाँ से लाये? तभी वह कलाकार सरपंज जी से कहता है – “सरपंज जी आप मूर्ति की बिलकुल चिंता ना करे आप जंगल के इस रास्ते चले जाइये आपको रस्ते में एक सुंदर मूर्ति मिल जायेगी. में अभी उस मूर्ति को तरासा है आप उसको इस मंदिर में स्थापित कर सकते है।

यह सुनने के बाद सरपंज जी कुछ लोगो के साथ जंगल के रास्ते चल देते है वह मूर्ति लाने. उनको मूर्ति मिल जाती है और मूर्ति को लाकर मंदिर में स्थापित कर देते है। अब लोग आते है और मूर्ति के सामने सर झुकाते है मूर्ति के सामने मन्नत मांगते है। मगर उस मंदिर में नारियल फोरने का कोई जगह नही होता है, तब सरपंज जी के मन में बिचार आता है जो नारियल फोरने के लिए मंदिर के बहार एक पत्थर होना चाहिए.

तभी वो कलाकार सरपंज जी से उस पहले वाले पत्थर के बारे में बताते है जिसको उन्होंने मूर्ति बनाना चाहा था मगर बनाया नही था।

यह सुनने के बाद सरपंज जी उस पत्थर को उठाकर लाते है और मंदिर के बहार रख देते है. अब जो भी मंदिर में पूजा करने आते है उस पत्थर के उप्पर अपना नारियल फोरते है।

Janiye 30 Din Me Kaise Bane Lakhpati Ghar Baithe Business Kare Apne Android Mobile Se (Without Investment)

फिर एकदिन क्या होता है दुपहर के वक़्त उस मंदिर में कोई नहीं रहता है. तब दोनों पत्थर आपस में बात कर रहे होते है।

जिस पत्थर पर सब नारियल फोरते है वो पत्थर मूर्ति बाले पत्थर से बोलता है- “अरे ओ पत्थर तेरी क्या किस्मत है तुझे आज भगवान बनाकर पुझा जा रहा है तेरी इतनी आरती उतारी जा रही है.”

यह सुनने के बाद मूर्ति वाला पत्थर बोलता है- “अगर तू मेरी तरह सहन कर लिया होता तो आज तू मेरी जगह बैठा होता!” जी हाँ दोस्तों अगर वह पत्थर जिसपर आज नारियल फोड़ा जा रहा है अगर बो उसदिन दर्द सेहन कर लेता तो आज बो भगवान होता और उसकी पूजा और आरती की जाती।

आज की प्रेरणादायक हिंदी कहानी से हमे क्या सिख मिलती है?

दोस्तों आज की कहानी से हमे बहुत बड़ी सिख मिलती है, इस दुनिया में उसी इंसान को पुझा जाता है जो success होते ह. और success उन्ही लोगो को मिलती है जो अपने जीवन में कुछ बनने के लिए बहुत दर्द झेलते है।

इसलिए दोस्तों आप सबसे एक छोटी सी बात कहना चाहूंगा आप आज जो भी कर रहे है आप उसको लगन और कड़ी मेहनत से करिये चाहे पढ़ाई हो या फिर बिज़नस आपको सफलता जरूर मिलेगी। दोस्तों इस कहानी की तरह हम सबकी कहानी है जो लोग दर्द सहते है बही अपने जीवन में कुछ बड़ा बन पाते है और उन्ही को लोग पूछते है। – छोटी हिंदी प्रेरणादयाक कहानिया

दोस्तों दिल से बताइयेगा आपको यह “प्रेरणादायक हिन्दी कहानी” कैसी लगी? आप से एक ही request है please नीचे दिए गए share बटन से अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे, और अगर आपकी लिखी हुई कोई motivational story है तो आप हमें भेज सकते है हम उसको अपने website में शेयर करेंगे आपके नाम से धन्याबाद! हमारे website के साथ जुड़े रहे।

Comments

  1. By Mandeep kumar

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *